Samridh Jharkhand
Fastly Emerging News Portal from Jharkhand

सीएए-एनआरसी पर सोनिया की बैठक से दूर रहे ममता, उद्धव व स्टालिन, 22 पार्टियां शामिल

0 14

- sponsored -

- Sponsored -

नयी दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आज नागरिकता संशोधन कानून एवं एनआरसी के विरोध में विपक्षी गठबंधन यूपीए के घटक दलों की पार्लियामेंट एनेक्सी में एक बैठक आयोजित की. इस बैठक से तृणमूल कांग्रेस, शिवसेना और द्रविड़ मुन्नेड़ कडगम जैसी बड़ी क्षेत्रीय पार्टियों ने दूरी बनाए रखी. बैठक में ममता बनर्जी, उद्धव ठाकरे व एमके स्टालिन न तो खुद शामिल हुए और न ही अपने किसी सहयोगी को भेजा. वहीं, इस बैठक में एनसीपी चीफ शरद पवार, सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी सहित 22 दलों के नेता शामिल हुए.

इस अहम बैठक में पूर्व प्रधानमंत्री डाॅ मनमोहन सिंह एवं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी शामिल हुए. इस बैठक में मायावती व अखिलेश यादव की पार्टियों का कोई प्रतिनिधि भी शामिल नहीं हुआ.

- Sponsored -

बैठक में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ व्यापक विरोध पर चर्चा हुई. खासकर विश्वविद्यालय एवं काॅलेजों में हो रहे विरोध पर चर्चा की गयी. सोनिया गांधी ने कहा कि देश ने बीजेपी के तांडव को देखा. उन्होंने जामिया, बीएचयू, इलाहाबाद विश्वविद्यालय, एएमयू व जेएनयू की स्थिति की चर्चा करते हुए कहा कि मोदी-शाह की सरकार लोगों को सुरक्षा प्रदान करने में विफल रही है.

सोनिया गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री एवं गृहमंत्री लोगों को गुमराह कर रहे हैं. वे अपने बयानों के विरोधाभाषी बयान दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि युवाओं ने देशव्यापी प्रदर्शन किया. उन्होंने कहा कि इसका तात्कालिक कारण सीएए-एनआरसी था, लेकिन यह लोगों की कुंठा का प्रकटीकरण था. उन्होंने कहा कि संविधान को नजरअंदाल किया गया है.

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -